Uttar pradesh

गर्भवती महिलाओं उत्तर प्रदेश मातृत्व वंदना | ऑनलाइन आवेदन | एप्लीकेशन फॉर्म

गर्भवती महिलाओं उत्तर प्रदेश मातृत्व वंदना | ऑनलाइन आवेदन | एप्लीकेशन फॉर्म

उत्तर प्रदेश गर्भवती महिलाओं मातृत्व वंदना योजना

गर्भवती महिलाओं उत्तर प्रदेश : भारत सरकार ने मातृत्व सहयोग योजना के नाम को बदलकर इसे उत्तर प्रदेश  प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना (PMMVY) का नाम दिया है। इस योजना के अंतर्गत सरकार द्वारा गर्भवती और स्तनपान कराने वाली माताओं को पहले जीवित जन्म के लिए 6000 रुपए की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। कई अन्य केंद्रीय सरकार की कल्याणकारी योजनाओं के समान सरकार ने इस योजना के नाम में भी “प्रधानमंत्री” शब्द शामिल किया है।

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने इस योजना को और अधिक आकर्षक बनाने के लिए उत्तर प्रदेश प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना (PMMVY) का नया नाम दिया है। महिला और बाल कल्याण विभाग के अनुसार पहले की गर्भावस्था सहायता योजना इतनी सफल नहीं थी, यहां तक कि बहुत से लोग इसके बारे में जानते भी नहीं थे।

उत्तर प्रदेश मातृत्व वंदना योजना 2019

गर्भवती महिलाओं उत्तर प्रदेश 2019 : उत्तर प्रदेश सरकार ने राज्य भर में प्रधान मंत्री मातृत्व वंदना योजना शुरू की है जिसके तहत गर्भवती महिलाओं को अपने पहले बच्चे के पैदा होने पर 6000 रुपये की वित्तीय सहायता मिलेगी जो की सीधे उनके बैंक खाते में जमा कर दी जाएगी।

उत्तर प्रदेश प्रधान मंत्री मातृत्व वंदना योजना का उद्देश्य गर्भवती महिलाओं के स्वास्थ्य में सुधार करना और अच्छे स्वास्थ्य के साथ बच्चे का सुरक्षित प्रसव कराना है। अधिसूचना के अनुसार 1 जनवरी 2017 के बाद से गर्भवती महिलाएं इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए योग्य होंगी।

Pradhan mantri matritva vandana yojana
गर्भवती महिलाओं उत्तर प्रदेश

उत्तर प्रदेश मातृत्व वंदना योजना का उद्देश्य 

  1. काम करने वाली महिलाओं की मजदूरी के नुकसान की भरपाई करने के लिए मुआवजा देना और उनके उचित आराम और पोषण को सुनिश्चित करना।
  2. उत्तर प्रदेश  मातृत्व वंदना योजना गर्भवती महिलाओं और स्तनपान कराने वाली माताओं के स्वास्थ्य में सुधार और नकदी प्रोत्साहन के माध्यम से अधीन-पोषण के प्रभाव को कम करना।

Pradhan mantri matritva vandana yojana : UPA के शासनकाल के दौरान प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना (PMMVY) को इंदिरा गांधी मातृत्व सहयोग योजना के रूप में नामित किया गया था, पर अब फिर से इसको दूसरा नाम दिया गया है। यह योजना महिला एवं बाल विकास मंत्रालय द्वारा लागू की जाएगी।

उत्तर प्रदेश मातृत्व वंदना योजना के लाभ 

उत्तर प्रदेश मातृत्व वंदना  योजना से गर्भवती महिलाओं और स्तनपान कराने वाली माताओं को पहले जीवित बच्चे के जन्म के दौरान फायदा होगा। योजना की लाभ राशि DBT के माध्यम से लाभार्थी के बैंक खाते में सीधे भेज दी जाएगी। रिपोर्ट के मुताबिक, सरकार निम्नलिखित किश्तों में राशि का भुगतान करेगी।

पहली किस्त: 1000 रुपए गर्भावस्था के पंजीकरण के समय
दूसरी किस्त: यदि लाभार्थी छह महीने की गर्भावस्था के बाद कम से कम एक प्रसवपूर्व जांच कर लेते हैं तो 2,000 रुपए मिलेंगे।
तीसरी किस्त: जब बच्चे का जन्म पंजीकृत हो जाता है और बच्चे को BCG, OPV, DPT और हेपेटाइटिस-B सहित पहले टीके का चक्र शुरू होता है।

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना (PMMVY) निम्न श्रेणी के गर्भवती महिलाओं और स्तनपान कराने वाली माताओं के लिए लागू नहीं होगी।
1. जो केंद्रीय या राज्य सरकार या किसी सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रम के साथ नियमित रोजगार में हैं।
2. जो किसी अन्य योजना या कानून के तहत समान लाभ प्राप्तकर्ता हैं।

उत्तर प्रदेश मातृत्व लाभ योजना के लिए आवेदन कैसे करें
  1. पहले सभी गर्भवती महिलाओं को अपने नजदीकी आंगनवाड़ी केंद्र में रजिस्टर करना होगा।
  2. गर्भवती महिलाओं बच्चे को जन्म केवल सरकारी अस्पतालों में ही किया जाएगा।
  3. जन्म देने के बाद कुछ जांच और अन्य नियमित परीक्षणों का पालन करना होगा।
  4. धनराशि 2000 की तीन किस्तों में प्रदान किया जाएगा।

इस योजना के लिए अप्लाई करने के लिए ऑनलाइन प्रक्रिया की जानकारी नीचे दी गयी लिंक पर प्राप्त कर सकते है।  हालाँकि आप अपने नजदीकी आंगनबाड़ी केंद्र या आशा से संपर्क करके इस गर्भवती महिला योजना फॉर्म के लिए अप्लाई कर सकते है

उत्तर प्रदेश मातृत्व लाभ योजना ऑनलाइन आवेदन

इस योजना में ऑनलाइन आवेदन करने के लिए इस वेबसाइट पर क्लिक करें 

दोस्तों उत्तर प्रदेश गर्भवती महिलाओं मातृत्व वंदना योजना किस प्रकार कि  लगी आप हमें कमेंट करके बता सकते हैं  इससे संबंधित प्रश्न पूछ सकते हैं हम आपके प्रश्नों का जवाब जरुर देंगे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *